बगोदर में माले की गोलबंदी, दीपंकर ने कहा, रघुवर सरकार की आखिरी पारी होगी

बगोदर में माले की गोलबंदी, दीपंकर ने कहा, रघुवर सरकार की आखिरी पारी होगी
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Nov 05, 2019

भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा है कि हरियाणा और महाराष्ट्र में 75 तथा 200 पार का नारा देने वाली बीजेपी को झटका लग चुका है. झारखंड विधानसभा चुनाव में रघुवर दास सरकार की आखिरी पारी होगी.

दीपंकर भट्टाचार्य ने आज बगोदर में माले कार्यकर्ताओं और समर्थकों को लामबंद करने के लिहाज से विधानसभा स्तरीय सम्मेलन में भाग लेने पहुंचे थे. 

उन्होंने कहा कि देश की अर्थ व्यवस्था खतरे में है. बीजेपी की सरकारें भ्रम का जाल फैलाकर नौजवान, मेहनकश, किसान को छलने में जुटी है. जनता के सवालों पर चुनावों में बीजीपी बातें नहीं करती. उन्होंने झारखंड के युवाओं से अपील की है कि विधानसभा चुनावों में जमीनी मुद्दों पर बीजेपी और उसकी सरकारों से सवाल करें और जवाब मांगें. 

उन्होंने कहा कि रोजगार के सवाल पर बीजेपी की सरकार ने झारखंड राज्य के युवाओं के साथ धोखाधड़ी की है. गिरिडीह जिले से पलायन बड़ी बेबसी है. पीढ़ी दर पीढ़ी लोग पलायन को विवश हैं. माले ने जमीन सवालों पर हमेशा संघर्ष का झंडा बुलंद किया है. हम इस चुनाव में भी डटकर बीजेपी की जनविरोधी नातियों को उजागर करेंगे. 

बगोदर के पूर्व विधायक विनोद सिंह ने कहा है कि पांच सालों में बगोदर को विकास के पैमाने पर पीछे धकेला गया. सड़कों का बुरा हाल है. नए भवन नहीं बने. और न ही शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में सुधार हुआ. बीजेपी सिर्फ ध्रुवीकरण को आधार बनाकर चुनाव मैदान में जाती रही है. गांवों के लोगों को हक और अधिकार से लगातार वंचित किया जा रहा है. भाकपा माले की पहचान सड़क से लेकर सदन तक संघर्ष करने की रही है. 

इसे भी पढ़ें: झारखंडः जेल में बंद पूर्व मंत्री राजा पीटर को चुनाव लड़ने की अनुमति मिली

विनोद सिंह ने कहा कि माले के कार्यकर्ता और समर्थक बगोदर में बदलाव के लिए आगे बढ़ें. यह चुनाव झूठ और फरेब को उजागर करने के लिए लड़ा जाना है. बीजेपी सरकार की नीतियों का पर्दाफाश करने के लिए लड़ा जाना है. 

राजधनबार के विधायक राजकुमार यादव ने कहा कि पांच सालों में ही बगोदर का बीजेपी ने बुरा हाल कर दिया. शोषित, वंचित और आखिरी कतार में शामिल लोगों की बातें सत्ता और सिस्टम से पहुंचने से रही.

इस बार के चुनाव में माले के कार्यकर्ता गांव- गांव में लोगों की व्यापक गोलबंदी तैयार कर माले की जीत सुनिश्चित करें. जनता के सवालों पर सबसे ज्यादा संघर्ष माले ने ही किया है. 

सम्मेलन का संचालन परमेश्वर महतो ने किया. जबकि माले के नेता मनोज भक्त, पवन महतो, सदीप जायसवाल, जिप सदस्य गजेंद्र महतो, पूनम महतो, सरिता महतो, मुस्ताक अंसारी, मनोज पांडेय, पूरन महतो समेत पूरे विधानसभा के कार्यकर्ता मौजूद थे. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

पंचतत्व में विलीन हुए बेरमो विधायक और मजदूरों के नेता राजेंद्र बाबू
पंचतत्व में विलीन हुए बेरमो विधायक और मजदूरों के नेता राजेंद्र बाबू
लॉकडाउन विफल रहा, अब आगे की रणनीति बताएं पीएम मोदीः राहुल गांधी
लॉकडाउन विफल रहा, अब आगे की रणनीति बताएं पीएम मोदीः राहुल गांधी
 अब उत्तर प्रदेश का मजदूर दुनिया में जहां भी होगा सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी : योगी आदित्यनाथ
अब उत्तर प्रदेश का मजदूर दुनिया में जहां भी होगा सरकार उसके साथ खड़ी रहेगी : योगी आदित्यनाथ
कोरोना का कहरः दुनिया के टॉप 10 देशों में भारत भी शामिल
कोरोना का कहरः दुनिया के टॉप 10 देशों में भारत भी शामिल
चाईबासा के प्रवासी आदिवासी की मौत, लाश पड़ी है वर्धा अस्पताल में, गम में डूबे हैं 15 मजदूर साथी
चाईबासा के प्रवासी आदिवासी की मौत, लाश पड़ी है वर्धा अस्पताल में, गम में डूबे हैं 15 मजदूर साथी
'अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, हम इसे तुरंत समाप्त नहीं कर सकते'
'अचानक लॉकडाउन लागू करना गलत था, हम इसे तुरंत समाप्त नहीं कर सकते'
देश में 4 करोड़ प्रवासी मजदूर, अब तक 75 लाख घर लौटें हैं :गृह मंत्रालय
देश में 4 करोड़ प्रवासी मजदूर, अब तक 75 लाख घर लौटें हैं :गृह मंत्रालय
लॉकडाउन में किसानों की क्या मदद की गई और कर्जमाफी से क्यों मुंह मोड़ रही सरकारः सुदेश
लॉकडाउन में किसानों की क्या मदद की गई और कर्जमाफी से क्यों मुंह मोड़ रही सरकारः सुदेश
बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
70 हजार भाड़ा देकर मुंबई से लौटे 7 मजदूर, बाबूलाल बोले, 'हेमंत जी, अफसर आपको सच बताते नहीं'
70 हजार भाड़ा देकर मुंबई से लौटे 7 मजदूर, बाबूलाल बोले, 'हेमंत जी, अफसर आपको सच बताते नहीं'

Stay Connected

Facebook Google twitter