रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?

रूस की कोरोना वैक्सीन के बारे जानकारों की अलग-अलग राय?
सांकेतिक तस्वीर
पीबी ब्यूरो ,   Aug 12, 2020

कोरोना की वैक्सीन बना लेने का रूस के दावे के बीच वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों की की अलग- अलग प्रतिक्रिया सामने आई है? इसका इस्तेमाल कितना सुरक्षित है और इसके असर को लेकर जानकार आश्वस्त नहीं हैं.

दिल्ली एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा कि इस वैक्सीन की सुरक्षा के पहलू की जांच जरूरी है. 

विश्व स्वास्थ्य संगठन, अमेरिका और जर्मनी ने भी रूस की वैक्सीन पर संदेह जताया है. डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि रूस इस वैक्सीन से जुड़ी जरूरी जानकारी साझा नहीं कर रहा है. दुनियाभर में 100 से ज्यादा वैक्सीन बनाने की कोशिशें जारी हैं. ये कोशिशें अलग-अलग देशों में की जा रही हैं. 

ड्बलूएचओके मुताबिक, दुनिया में कम से कम चार वैक्सीन का अंतिम और तीसरे चरण का ट्रायल चल रहा है.

भारत में भी दो वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल चल रहा है. इसमें एक वैक्सीन भारत बायोटेक की है. दूसरी वैक्सीन जायडस कैडिला की है. रूस की वैक्सीन के बारे में गुलेरिया ने कहा, 'हमें देखना पड़ेगा कि रूसी वैक्सीन कितनी सेफ और इफेक्टिव है. 

इसे भी पढ़ें: जानिए क्यों मिला खूंटी के दारोगा पुष्पराज को केंद्रीय गृह मंत्री पदक सम्मान

सेफ का मतलब यह है कि उसकी कोई साइड इफेक्ट नहीं होना चाहिए. इफेक्टिव का मतलब है कि वैक्सीन इम्युनिटी को बढ़ाने में कितना कारगर है. अगर वैक्सीन इन दोनों पैमानों पर खरा उतरती है तो ठीक है.

चूंकि यह वैक्सीन बहुत जल्दबाजी में लांच की गई है, इसलिए सुरक्षा के पहलू को लेकर आशंका जताई जा रही है. 

मॉस्को के गेमालेया इंस्टीट्यूट में विकसित इस वैक्सीन के ट्रायल के दौरान के सेफ़्टी डेटा अभी तक जारी नहीं किए गए हैं. इस वज़ह से दूसरे देशों के वैज्ञानिक ये स्टडी नहीं कर पाए हैं कि रूस का दावा कितना सही है.

रूस ने इस वैक्सीन का नाम 'स्पुतनिक वी' दिया है. रूसी भाषा में 'स्पुतनिक' शब्द का अर्थ होता है सैटेलाइट. रूस ने ही विश्व का पहला सैटेलाइट बनाया था.

उसका नाम भी स्पुतनिक ही रखा था. इसलिए नए वैक्सीन के नाम को लेकर ये भी कहा जा रहा है कि रूस एक बार फिर से अमरीका को जताना चाहता है कि वैक्सीन की रेस में उसने अमरीका को मात दे दी है, जैसे सालों पहले अंतरिक्ष की रेस में सोवियत संघ ने अमरीका को पीछे छोड़ा था.

हालांकि, रूस ने इस तरह की आशंकाओं को खारिज किया है. उसने कहा है कि वैक्सीन की जांच के नतीजे जल्द सार्वजनिक कर दिए जाएंगे.

इस वैक्सीन की क्षमता और इसके सुरक्षित होने से जुड़ी जांच चलती रहेंगी. जानकारों का यह भी कहना है कि रूस ने वैक्सीन बनाने में सुरक्षा के मानदंडों की जगह राष्ट्रीयता को तरजीह दी है.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

Stay Connected

Facebook Google twitter