1932 के खतियान पर स्थानीयता को लेकर कांग्रेस और राजद अपनी स्थिति स्पष्ट करेः झारखंड बीजेपी

1932 के खतियान पर स्थानीयता को लेकर कांग्रेस और राजद अपनी स्थिति स्पष्ट करेः झारखंड बीजेपी
Publicbol File Photo- (बाएं से विधायक राज सिन्हा के ठीक बाद दीपक प्रकाश)
पीबी ब्यूरो ,   Feb 03, 2020

झारखंड में स्थानीय नीति को लेकर सियासत में नए सिरे से खदबाहट होने लगी है. दरअसल, जेएमएम के नेता लगातार इस बात पर जोर दे रहे हैं कि रघुवर दास सरकार में बनाई गई स्थानीय नीति को बदला जाएगा. इस बीच झारखंड बीजेपी ने सरकार में शामिल कांग्रेस और राजद से अपनी स्थिति स्पष्ट करने को कहा है. 

पार्टी के प्रदेश महामंत्री सह मुख्यालय प्रभारी दीपक प्रकाश ने कहा है कि इस मुद्दे पर सरकार राज्य की जनता को दिगभ्रमित करने की कोशिशों में जुटी है. दीपक प्रकाश ने कहा कि  स्थानीय नीति से संबंधित झामुमो की घोषणा पर सरकार के अन्य घटक दल कांग्रेस राजद को भी अपनी राय स्पष्ट करनी चाहिए कि वे क्या चाहते हैं. 

बीजेपी नेता ने कहा है कि परस्पर विरोधी घोषणा पत्र वाले घटक दलों की सरकार अपनी घोषणाओं पर अमल करने के बजाय जनता की आंखों में धूल झोंकने का प्रयास कर रही है. तीनों दल के अपने एजेंडे हैं और सब सरकार में अपने मतलब के यार हैं. 

उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार आदिवासियों का नर संहार करा रही है. राज्य के मंत्री आम जनता को मरने को विवश कर रहे. 
जबकि हेमंत सरकार अपने वायदों पर अमल करने की जगह बहाने ढूंढने की दिशा में अग्रसर है.

गौरतलब है कि एक फरवरी को दुमका में जेएमएम के स्थापन दिवस समारोह में पार्टी ने 1932 के खतियान के आधार पर स्थानीय नीति बनाने का राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया है.

इसे भी पढ़ें: संसद में केंद्र सरकार का जवाब, राष्ट्रीय स्तर पर एनआरसी लाने पर अभी फैसला नहीं

इससे पहले जेएमएम के प्रमुख शिबू सोरेन ने कहा है कि सरकार स्थानीय नीति में संशोधन करेगी. जबकि सरकार में मंत्री बनने के बाद जेएमएम नेता जगरनाथ महतो ने हाल ही में कहा है कि जब पार्टी प्रमुख ने कह दिया है, तो वही होगा. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

जामिया-न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी हिंसा: आरोप पत्र दाखिल, शरजील इमाम पर उकसाने का आरोप
जामिया-न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी हिंसा: आरोप पत्र दाखिल, शरजील इमाम पर उकसाने का आरोप
नीतीश कुमार ने बेटे की तरह रखा, लेकिन उनसे भारी वैचारिक मतभेद हैं- प्रशांत किशोर
नीतीश कुमार ने बेटे की तरह रखा, लेकिन उनसे भारी वैचारिक मतभेद हैं- प्रशांत किशोर
5 से 18 अप्रैल तक रांची में सेना भर्ती रैली का आयोजन
5 से 18 अप्रैल तक रांची में सेना भर्ती रैली का आयोजन
'साल 2014 से ही प्रयास कर रहा था, पर बाबूलाल ठहरे जिद्दी, अब जाकर माने'
'साल 2014 से ही प्रयास कर रहा था, पर बाबूलाल ठहरे जिद्दी, अब जाकर माने'
सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, महिलाओं को सेना में मिले स्थायी कमीशन और कमांड पोस्टिंग
सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, महिलाओं को सेना में मिले स्थायी कमीशन और कमांड पोस्टिंग
बेतला नेशनल पार्क : बाघिन को जंगली भैंसों ने घेर कर मार डाला, जांच-पड़ताल जारी
बेतला नेशनल पार्क : बाघिन को जंगली भैंसों ने घेर कर मार डाला, जांच-पड़ताल जारी
बाबूलाल मरांडी के कार्यकाल में 'मेनहर्ट' को लेकर हुई गड़बड़ी की भी जांच होगीः जेएमएम
बाबूलाल मरांडी के कार्यकाल में 'मेनहर्ट' को लेकर हुई गड़बड़ी की भी जांच होगीः जेएमएम
वाराणसी दौरे पर पीएम मोदी, कहा, देश सिर्फ सरकार से नहीं हर नागरिक के संस्कार से बनता है
वाराणसी दौरे पर पीएम मोदी, कहा, देश सिर्फ सरकार से नहीं हर नागरिक के संस्कार से बनता है
जामिया लाइब्रेरी में पुलिस की बर्बरता पर जारी वीडियो पर उठते सवाल
जामिया लाइब्रेरी में पुलिस की बर्बरता पर जारी वीडियो पर उठते सवाल
रांची में चमकीं राजस्थान की भावना जाट, राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ ओलिंपिक का टिकट मिला
रांची में चमकीं राजस्थान की भावना जाट, राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ ओलिंपिक का टिकट मिला

Stay Connected

Facebook Google twitter