नागरिकता कानून, एनआरसी का भारतीय मुस्लिमों से कुछ लेना-देना नहीं: नरेंद्र मोदी

नागरिकता कानून, एनआरसी का भारतीय मुस्लिमों से कुछ लेना-देना नहीं: नरेंद्र मोदी
Twitter - BJP
पीबी ब्यूरो ,   Dec 22, 2019

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को विरोधियों पर लोगों के बीच डर फैलाने और नागरिकता संशोधन कानून पर मुस्लिमों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी सरकार की योजनाओं में कभी भी धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं किया गया. दिल्ली के रामलीला मैदान में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने संशोधित नागरिकता कानून के बारे में कहा कि इस कानून से देश के मुसलमानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचने वाला है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के मुसलमानों को आश्वस्त करते हुए कहा, ‘अब भी जो भ्रम में हैं, मैं उनसे कहूंगा कि जो हिंदुस्तान की मिट्टी के मुसलमान हैं, उनसे नागरिकता कानून और एनआरसी दोनों का ही कोई लेना-देना नहीं है. 

सीएए का फायदा नये शरणार्थियों को नहीं मिलेगा. ये एक्ट उन लोगों पर लागू होगा जो बरसों से भारत में ही रह रहे हैं, किसी नए शरणार्थी को इस कानून का फायदा नहीं मिलेगा. पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से धार्मिक प्रताड़ना की वजह से आए लोगों को सुरक्षा देने के लिए ये कानून है.’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर लोगों को गुमराह करने का आरोप भी लगाया. उन्होंने कहा, ‘विपक्ष देश को डर और अराजकता के माहौल में धकेलने की साजिश कर रहा है. विपक्ष इस बात को सहन नहीं कर पा रहा है कि नरेंद्र मोदी दोबारा जीत कर कैसे आ गया है.’

प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा, ‘ये लोग (विपक्ष) किस तरह अपने स्वार्थ के लिए हद पार कर रहे हैं, ये आपने पिछले हफ्ते देखा है. इन्होने झूठे वीडियो दिखाए, उकसाने वाली बातें कहीं, उच्च स्तर पर बैठे लोगों ने सोशल मीडिया में डालकर भ्रम और आग फैलाने का गुनाह किया.’

इसे भी पढ़ें: Live-रघुवर दास पीछे चल रहे, बागी सरयू राय का दबदबा

नरेंद्र मोदी ने विपक्षी पार्टियों से सवाल करते हुए कहा, ‘मैं इन सभी से जानना चाहता हूं, क्या जब हमने दिल्ली की सैकड़ों कॉलोनियों को वैध करने का काम किया, तो किसी से पूछा कि आपका क्या धर्म है, आपकी आस्था किस तरफ है, आप किस पार्टी के समर्थक हैं? ये लोग झूठ बोल कर मुस्लिमों में भ्रम फैला रहे हैं.’

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदर्शनों के दौरान हिंसा करने वालों पर भी बात की. उनका कहना था, ‘स्कूल बसों पर हमले हुए, ट्रेनों पर हमले हुए, मोटर साइकिलों, गाड़ियों, साइकिलों, छोटी-छोटी दुकानों को जलाया गया है, 

भारत के ईमानदार टैक्सपेयर के पैसे से बनी सरकारी संपत्ति को खाक कर दिया गया. इसके बाद इनके इरादे कैसे हैं, ये देश अब जान चुका है....मैं इनसे कहना चाहता हूं कि मेरा पुतला जला लो, मेरे पुतले को जूते मार लो, लेकिन सरकारी संपत्ति न जलाओ और पुलिस जनता की दुश्मन नहीं है.’

मोदी ने कहा, ‘‘ मैं सभी देशवासियों को आश्वस्त करना चाहता हूं, इन लोगों : विपक्ष : की साजिशों के बावजूद आपका ये सेवक देश के लिए, देश की एकता के लिए, शांति और सद्भाव के लिए जो भी बन सकेगा , करेगा , उससे मैं कभी पीछे नहीं हटूंगा. ’’ 

कांग्रेस समेत समूचे विपक्ष पर हमला करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि ये लोग अपने स्वार्थ के लिए, अपनी राजनीति के लिए किस हद तक जा रहे हैं, ये आपने पिछले हफ्ते भी देखा 

मोदी ने विपक्ष को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि मोदी को देश की जनता ने बैठाया, यह अगर आपको पसंद नहीं है, तो आप मोदी को गाली दो, विरोध करो, मोदी का पुतला जलाओ लेकिन देश की संपत्ति मत जलाओ, गरीब का रिक्शा मत जलाओ. 

उन्होंने कहा कि उन्हें पूरा विश्वास है कि एक बार जब हाथ में तिरंगा आ जाता है तो वह फिर कभी हिंसा का, अलगाव का, बांटने की राजनीति का समर्थन नहीं कर सकता. 

उन्होंने कहा, ‘‘ मुझे पूरा विश्वास है कि हाथ में थमा यह तिरंगा इन लोगों को हिंसा फैलाने वालों के ख़िलाफ़, हथियार उठाने वालों के ख़िलाफ़, आतंकवादी हमले करने वालों के खिलाफ भी आवाज उठाने के लिये प्रेरित करेगा. 

प्रधानमंत्री ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वालों के हाथ में जब ईंट-पत्थर देखता हूं, जब उनके हाथ में हिंसा के साधन देखता हूं तो मुझे काफी तकलीफ होती है। लेकिन मेरी सोच अलग है।.परन्तु जब उन्हीं में से कुछ के हाथ में तिरंगा देखता हूं, तो सुकून भी होता है क्योंकि हाथों में तिरंगा एक जिम्मेदारी भी है.

(भाषा से इनपुट) 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

निर्वाचन आयोग ने खुद को कलंकित किया, इसे भंग किया जाए, इसके सदस्यों की जांच हो: आनंद शर्मा
निर्वाचन आयोग ने खुद को कलंकित किया, इसे भंग किया जाए, इसके सदस्यों की जांच हो: आनंद शर्मा
ममता बनर्जी 5 मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ, लगातार तीसरा मौका
ममता बनर्जी 5 मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ, लगातार तीसरा मौका
हल्के लक्षण होने पर सीटी-स्कैन कराने का कोई लाभ नहीं- डॉ. रणदीप गुलेरिया
हल्के लक्षण होने पर सीटी-स्कैन कराने का कोई लाभ नहीं- डॉ. रणदीप गुलेरिया
शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर पीने से दो की मौत, दो अन्य बीमार
शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर पीने से दो की मौत, दो अन्य बीमार
अस्पतालों में बेड का इंतजार करना अधिक मौत की वजह हो सकती है-रणदीप गुलेरिया
अस्पतालों में बेड का इंतजार करना अधिक मौत की वजह हो सकती है-रणदीप गुलेरिया
गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से 14 कोरोना मरीज समेत 16 की मौत
गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से 14 कोरोना मरीज समेत 16 की मौत
भाजपा पश्चिम बंगाल में आराम से और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगीः भूपेंद्र यादव
भाजपा पश्चिम बंगाल में आराम से और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगीः भूपेंद्र यादव
वैक्सीन को लेकर हेमंत सरकार केंद्र पर दोष मत मढ़े,  राज्य के पास 6.44 लाख टीका उपलब्धः दीपक प्रकाश
वैक्सीन को लेकर हेमंत सरकार केंद्र पर दोष मत मढ़े, राज्य के पास 6.44 लाख टीका उपलब्धः दीपक प्रकाश
अमेरिका से चिकित्सा एवं राहत सामग्री की पहली खेप भारत पहुंची, कहा- कोविड से मिलकर लड़ेंगे
अमेरिका से चिकित्सा एवं राहत सामग्री की पहली खेप भारत पहुंची, कहा- कोविड से मिलकर लड़ेंगे
हेमंत सोरेन ने लगवाया कोरोना का टीका, बोले-अफवाहों पर ना दें ध्यान, वैक्सीन है जरूरी
हेमंत सोरेन ने लगवाया कोरोना का टीका, बोले-अफवाहों पर ना दें ध्यान, वैक्सीन है जरूरी

Stay Connected

Facebook Google twitter