चंद्रयान2ः आखिरी वक्त में लैंडर से संपर्क टूटा, पीएम मोदी बोले, फिर होगी नई सुबह

चंद्रयान2ः आखिरी वक्त में लैंडर से संपर्क टूटा, पीएम मोदी बोले, फिर होगी नई सुबह
पीबी ब्यूरो ,   Sep 07, 2019

भारत के सबसे महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष अभियान चंद्रयान-2 का चांद पर उतरते समय लैंडर विक्रम का कमांड सेंटर से संपर्क टूट गया है. यह तब हुआ जब विक्रम चांद की सतह से सिर्फ 2.1 किलोमीटर दूर था.

लैंडर को रात लगभग एक बजकर 38 मिनट पर चांद की सतह पर लाने की प्रक्रिया शुरू की गई, लेकिन चांद पर नीचे की तरफ आते समय चंद्र सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर जमीनी स्टेशन से इसका संपर्क टूट गया.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लैंडर का संपर्क टूट जाने के बाद इसरो के वैज्ञानिकों से कहा,‘‘देश को आप पर गर्व है. सर्वश्रेष्ठ के लिए उम्मीद करें। हौसला रखें. जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं। यह कोई छोटी उपलब्धि नहीं है.’’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि वे मिशन में आई रुकावटों के कारण अपना दिल छोटा नहीं करें, क्योंकि नई सुबह जरूर होगी.

प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों से कहा, ‘‘ हर मुश्किल, हर संघर्ष, हर कठिनाई, हमें कुछ नया सिखाकर जाती है, कुछ नए आविष्कार, नई टेक्नोलॉजी के लिए प्रेरित करती है और इसी से हमारी आगे की सफलता तय होती हैं। ज्ञान का अगर सबसे बड़ा शिक्षक कोई है तो वो विज्ञान है.’’ इसरो के मिशन कंट्रोल सेंटर से प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा, ‘‘ विज्ञान में विफलता नहीं होती, केवल प्रयोग और प्रयास होते हैं.’’

इसे भी पढ़ें: बेबसी की इंतहाः इलाज के लिए नवजात को बेच डाला, पर नहीं बची मां, हुक मारता रहा बीमार बाप का कलेजा

क्या हुआ  देर रात 

लैंडर को रात लगभग एक बजकर 38 मिनट पर चांद की सतह पर लाने की प्रक्रिया शुरू की गई, लेकिन चांद पर नीचे की तरफ आते समय चंद्र सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर जमीनी स्टेशन से इसका संपर्क टूट गया.

‘विक्रम’ ने ‘रफ ब्रेकिंग’ और ‘फाइन ब्रेकिंग’ चरणों को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया, लेकिन ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ से पहले इसका संपर्क धरती पर मौजूद स्टेशन से टूट गया. इसके साथ ही वैज्ञानिकों और देश के लोगों के चेहरे पर निराशा की लकीरें छा गईं.

इसरो अध्यक्ष के सिवन इस दौरान कुछ वैज्ञानिकों से गहन चर्चा करते दिखे.

उन्होंने घोषणा की कि ‘विक्रम’ लैंडर को चांद की सतह की तरफ लाने की प्रक्रिया योजना के अनुरूप और सामान्य देखी गई, लेकिन जब यह चंद्र सतह से 2.1 किलोमीटर की ऊंचाई पर था तो तभी इसका जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट गया. डेटा का अध्ययन किया जा रहा है.

पीएम मोदी चांद पर ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ का सीधा नजारा देखने के लिए यहां स्थित इसरो केंद्र पहुंचे थे. हालांकि, लैंडर से संपर्क टूट जाने के कारण ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ के बारे में कोई सूचना नहीं मिल पाई. मोदी ने इसरो प्रमुख के सिवन की पीठ भी थपथपाई.

पूरा देश बोला, गर्व है

‘चंद्रयान-2’ के लैंडर ‘विक्रम’ का चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूट जाने के बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने कहा कि देश को इसरो के वैज्ञानिकों पर गर्व है.

कोविन्द ने ट्वीट किया, ‘‘चंद्रयान-2 मिशन के साथ इसरो की समूची टीम ने असाधारण प्रतिबद्धता और साहस का प्रदर्शन किया है। देश को इसरो पर गर्व है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम सभी सर्वश्रेष्ठ की उम्मीद करते हैं.’’

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल भी इसरो वैज्ञानिकों से कहा कि वे निराश न हों और उनकी उपलब्धियों पर देश को गर्व है.

इसे भी पढ़ें: अलका लांबा कांग्रेस में शामिल होंगी, आम आदमी पार्टी से तोड़ा नाता

इसके साथ ही कांग्रेस ने कहा कि देश इसरो के साथ खड़ा है और उसका प्रयास व्यर्थ नहीं जाएगा.

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसरो वैज्ञानिकों की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने मिशन पर बेहतरीन काम किया तथा कई और महत्वपूर्ण एवं महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष मिशनों की नींव रखी है.

गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘इसरो को ‘चंद्रयान-2’ मिशन पर उसके बेहतरीन कार्य के लिए बधाई। आपका भाव और समर्पण हर भारतीय के लिए एक प्रेरणा है। आपका काम व्यर्थ नहीं जाएगा। इसने कई और महत्वपूर्ण तथा महत्वाकांक्षी भारतीय अंतरिक्ष मिशनों की नींव रखी है.’’


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

सोशल मीडिया पर आपातकाल लगाने के संदेश फर्जी: सेना
सोशल मीडिया पर आपातकाल लगाने के संदेश फर्जी: सेना
 नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 29 हुई
नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 29 हुई
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
भारत में पांव पसारने लगा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या 25, संक्रमितों की तादाद करीब 1000
भारत में पांव पसारने लगा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या 25, संक्रमितों की तादाद करीब 1000
झारखंडः मदद में उतरी बीजेपी, गरीब और मजदूरों के बीच 'मोदी आहार' का वितरण शुरू
झारखंडः मदद में उतरी बीजेपी, गरीब और मजदूरों के बीच 'मोदी आहार' का वितरण शुरू
बचके रहिए, भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला तेज, मरने वालों का आंकड़ा 19
बचके रहिए, भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला तेज, मरने वालों का आंकड़ा 19
लॉक डाउन में नहीं आई बारात, दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह
लॉक डाउन में नहीं आई बारात, दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह
पहले देश, स्थिति सामान्य होने दें, फिर आईपीएल पर बात कर सकते हैं : रोहित
पहले देश, स्थिति सामान्य होने दें, फिर आईपीएल पर बात कर सकते हैं : रोहित
कोरोनाः नया टेस्ट विकसित, संक्रमण की पुष्टि सिर्फ ढाई घंटे में हो सकेगी
कोरोनाः नया टेस्ट विकसित, संक्रमण की पुष्टि सिर्फ ढाई घंटे में हो सकेगी

Stay Connected

Facebook Google twitter