चाईबासाः ढाई साल से नक्सलियों के कब्जे में यौन शोषण का शिकार होती रही बच्ची, पुलिस ने मुक्त कराया

चाईबासाः ढाई साल से नक्सलियों के कब्जे में यौन शोषण का शिकार होती रही बच्ची, पुलिस ने मुक्त कराया
Publicbol
पीबी ब्यूरो ,   Mar 21, 2020

झारखंड में चाईबासा की पुलिस ने एक नाबालिग बच्ची को माओवादियों के कब्जे से मुक्त कराया है. पुलिस ने मेडिकल चेकअप कराने के बाद उसे जिला बाल कल्याण समिति (सीड्ब्लूसी) को सौंपा गया है.

फिलहाल बच्ची को शेल्टर होम में रखा गया है. चाईबासा के पुलिस अध्यक्षक इंद्रजीत महथा ने यह जानकारी प्रेस कांफ्रेस में दी है.

उन्होंने बताया है कि पीड़िता की राहत और पुनर्वास के लिए उपायुक्त चाईबासा से अनुरोध किया गया है. पीड़िता का नामांकन कस्तूरबा स्कूल में कराया जाएगा. 

पुलिस अधिकारी के मुताबिक चक्रधरपुर क्षेत्र के इंदरवा स्कूल में पढ़ने वाली इस बच्ची को माओवादी अगवा कर हथियारबंद दस्ता में ले गए थे. इनमें जीवन कंडुलना, ऊर्फ लंबू, सुभाष मुंडा, सुभाष उर्फ लोदरो लोहरा और सूर्या सोय ने हथियार के बल पर बच्ची का अगवा किया था. 

जबकि कई बार पीड़िता ने घर वालों तक यह खबर पहुंचाई कि नक्सली हथियार के बल पर उसका यौन शोषण करते रहे हैं. विरोध करने पर मारपीट की जाती है.

इसे भी पढ़ें: बिहार में कोरोना से पहली मौत, देश में अब तक 6 लोगों की गई जान

उधर घर के लोग तमाम कोशिशों के बाद भी बच्ची को वापस लाने में नाकाम होते रहे. 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पीड़ित परिवार ने जब पुलिस को यह जानकारी दी, तो एक टीम गठित कर डोंगेडटा जरजटा इंदरवा के जंगलों में कार्रवाई शुरू की गई.

तलाशी अभियान का नेतृत्व सहायक कमांडेट कौशल यादव और धीरेंद्र पाठक कर रहे थे. जबकि टीम में कराईकेला और टेबो के इंस्पेक्टर समेत सीआरपीएफ तथा सैट के जवान शामिल थे. 

इस बीच बच्ची के परिजनों ने 21 मार्च को चक्रधरपुर महिला थाना में माओवादियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है.

पुलिस ने आईपीसी, जेजे एक्ट, पोक्सो एक्ट तथा 17 सीएलए एक्ट की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर चिन्हित नक्सलियों की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई तेज कर दी है. 

इससे पहले पुलिस ने बच्ची का बयान दर्ज किया है. पुलिस का कहना है कि बच्ची ने नक्सलियों के बारे में कई अहम जानकारी दी है. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

सोशल मीडिया पर आपातकाल लगाने के संदेश फर्जी: सेना
सोशल मीडिया पर आपातकाल लगाने के संदेश फर्जी: सेना
 नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 29 हुई
नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 29 हुई
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
भारत में पांव पसारने लगा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या 25, संक्रमितों की तादाद करीब 1000
भारत में पांव पसारने लगा कोरोना वायरस, मरने वालों की संख्या 25, संक्रमितों की तादाद करीब 1000
झारखंडः मदद में उतरी बीजेपी, गरीब और मजदूरों के बीच 'मोदी आहार' का वितरण शुरू
झारखंडः मदद में उतरी बीजेपी, गरीब और मजदूरों के बीच 'मोदी आहार' का वितरण शुरू
बचके रहिए, भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला तेज, मरने वालों का आंकड़ा 19
बचके रहिए, भारत में कोरोना वायरस के बढ़ने का सिलिसिला तेज, मरने वालों का आंकड़ा 19
लॉक डाउन में नहीं आई बारात, दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह
लॉक डाउन में नहीं आई बारात, दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह
पहले देश, स्थिति सामान्य होने दें, फिर आईपीएल पर बात कर सकते हैं : रोहित
पहले देश, स्थिति सामान्य होने दें, फिर आईपीएल पर बात कर सकते हैं : रोहित
कोरोनाः नया टेस्ट विकसित, संक्रमण की पुष्टि सिर्फ ढाई घंटे में हो सकेगी
कोरोनाः नया टेस्ट विकसित, संक्रमण की पुष्टि सिर्फ ढाई घंटे में हो सकेगी

Stay Connected

Facebook Google twitter