बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार

बोकारोः गांव की महिलाओं ने एक महिला को बेरहमी से पीटा, बाल काटे, खींचकर कपड़े खोले, 11 गिरफ्तार
वीडियो का स्क्रीन शॉट
पीबी ब्यूरो ,   May 23, 2020

झारखंड में बोकारो जिले के पेटरवार थाना क्षेत्र के जोराबांध गांव में एक शर्मनाक घटना सामने आई है. महिलाओं की भीड़ ने गांव की एक महिला को चारों तरफ से घेर कर बेरहमी से पिटाई की. लात-घूसे और जूते- चप्पल बरसाए. इससे भी जी नहीं भरा, तो बाल काट डाले. कपड़े खींच दिए. 

पीड़ित महिला रोती- बिलखती रही. जान बख्श देने की गुहार लगाती रही. पर महिलाओं का दिल नहीं पसीजा. इधर गांव के कई पुरूष तमाशबीन बने रहे घटना का वीडियो बनाते रहे. इसके बाद यह वीडियो वायरल भी किया गया. पुलिस को भी ये वीडियो मिले हैं. 

यह गांव बेरमो अनुमंडल मुख्यालय से करीब 7 किलोमीटर दूर है. 

महिला पर कथित तौर पर चाल-चलन ठीक नहीं होने होने और ग्रामीणों को केस मुकदमे में फंसाने का आरोप लगाकर गांव की गलियों में घसीट कर पिटाई की. 

यह घटना शुक्रवार शाम की है. विवाहिता महिला को घर से खींच कर महिलाओं ने बाहर निकाला. इनमें से कई महिलाएं खुद को महिला समिति की सदस्य बता रही थीं. 

इसे भी पढ़ें: झारखंड के कोडरमा में कोरोना के एक मरीज की मौत

इस बीच बोकारो के एसपी चंदन झा ने बताया है कि इस मामले में अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इनमें 7 महिलाएं और 4 पुरूष शामिल हैं. जबकि 31 लोग नामजद हैं. 

इसी मामले में कम से कम 50 अज्ञात लोग भी हो सकते हैं. उनकी भी पहचान की जा रही है. एसपी ने कहा है कि इस मामले में सभी साक्ष्य जुटाकर स्पीडी ट्रायल कराया जाएगा, ताकि दोषियों को सजा मिले. 

उन्होंने कहा कि पुलिस लगातार छापा मार रही है. बहुत लोग गांव छोड़ कर फरार हो गए हैं. लेकिन सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं. किसी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा. 

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि बेरमो के डीएसपी घटना स्थल पर कैंप कर रहे हैं. एएसपी ने भी घटना स्थल का जायजा लिया है. महिला पुलिस को भी भेजा गया है.

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पीड़ित महिला को सुरक्षा दी गई है. उनके आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है. 

पुलिस अधीक्षक का कहना है कि तब पीड़िता को भीड़ से बाहर निकालना और इलाज कराना पुलिस की प्राथमिकता थी. 

उन्होंने बताया कि प्रारंभिक छानबीन में पता चला है कि महिलाएं आरोप लगा रही थीं कि यह महिला लोगों को छेड़खानी समेत अन्य मामलों में केस मुकदमे में फंसा देती है.  

हालांकि इस तथ्य में सत्यता की जांच बाकी है. उन्होंने कहा कि और भी कई पहलू सामने आए हैं. उन पर भी जांच कराई जाएगी. 

इससे पहले महिला की जब बेरहमी से पिटाई की जा रही थी, तो गांव से किसी व्यक्ति ने तेनुघाट ओपी को फोन पर घटना की जानकारी दी. सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंची. पुलिस को देखते ही गांव की महिलाएं और भड़क गईं. हालांकि पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बीच पीड़ित महिला को हिंसक भीड़ के कब्जे से से छुड़ा कर उसे इलाज के लिए भेज दिया.  

इसे भी पढ़ें: तूफान 'अंफन' से तबाही के बाद बंगाल को 1000 करोड़ की मदद का ऐलान

शनिवार की सुबह पीड़ित महिला अपना उपचार करवा कर तेनुघाट ओपी पहुंची और लिखित आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई. पीड़िता ने पुलिस को कई महिलाओं के नाम भी बताए हैं और देखने पर पहचान लेने का दावा किया है. 

इसके बाद जरीडीह इंस्पेक्टर मो रुस्तम के नेतृत्व में तीन थानों की पुलिस, महिला पुलिस बल को साथ लेकर आरोपियों गिरफ्तारी के लिए जोराबांध गांव पहुची. मगर गांव में हर तरफ सन्नाटा पसरा हुआ था 

अधिकतर आरोपी गांव से फरार हो चुके थे. इस दौरान पुलिस कई लोगो को पुछताछ के लिए अपने साथ ले गई. इनमें कुछ महिलाएं भी थी. सख्ती से पूछताछ के बाद पुलिस ने छापा मारना शुरू किया और शाम तक 11 लोग पकड़ लिए गए हैं. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
प्रवासी मज़दूरों से किराया नहीं लिया जाए और खाना भी मुहैया कराएं- सुप्रीम कोर्ट
प्रवासी मज़दूरों से किराया नहीं लिया जाए और खाना भी मुहैया कराएं- सुप्रीम कोर्ट
चाईबासाः मुठभेड़ में पीएलएफआई की एक महिला समेत तीन उग्रवादी मारे गए, एके 47 बरामद
चाईबासाः मुठभेड़ में पीएलएफआई की एक महिला समेत तीन उग्रवादी मारे गए, एके 47 बरामद
अब लॉकडाउन खत्म करना ही होगा, इसे बढ़ाने का मतलब नहींः किरण मजूमदार शॉ
अब लॉकडाउन खत्म करना ही होगा, इसे बढ़ाने का मतलब नहींः किरण मजूमदार शॉ
फीस माफी पर निजी स्कूल राजी नहीं, जगरनाथ बोले, 'शिक्षा मंत्री की बात भी आपने नहीं मानी'
फीस माफी पर निजी स्कूल राजी नहीं, जगरनाथ बोले, 'शिक्षा मंत्री की बात भी आपने नहीं मानी'

Stay Connected

Facebook Google twitter