कंगना रनौत का दफ्तर बीएमसी ने तोड़ा, अभिनेत्री ने कहा, 'सब याद रखा जाएगा'

कंगना रनौत का दफ्तर बीएमसी ने तोड़ा, अभिनेत्री ने कहा, 'सब याद रखा जाएगा'
पीबी ब्यूरो ,   Sep 09, 2020

चंडीगढ़-मुंबई फ़्लाइट से कंगना रनौत मुंबई पहुंच चुकी हैं. एयरपोर्ट के बाहर करणी सेना कंगना के समर्थन में और शिवसेना विरोध में नारेबाज़ी कर रही है.

थोड़ी देर पहले बंबई हाई कोर्ट ने बॉलीवुड अभिनेती कंगना रनौत के दफ़्तर पर मुंबई महानगरपालिका की कार्रवाई पर रोक लगाने का आदेश दिया है. हाई कोर्ट ने बीएमसी से कंगना की याचिका पर जवाब दाखिल करने के लिए भी कहा है.

इससे पहले मुंबई महानगरपालिका की एक टीम ने अभिनेत्री कंगना रनौत के बंगले के कुछ हिस्सों को ढहाने की कार्रवाई शुरू कर दी थी जिन्हें वो अवैध तरीक़े से किया गया बदलाव बता रहे थे.

सुबह में मुंबई महानगरपालिका की एक टीम ने अभिनेत्री कंगना रनौत के बंगले के कुछ हिस्सों को ढहाना शुरू किया था, जिन्हें वो अवैध तरीके से किया गया बदलाव बता रहे हैं.

कंगना का यह दफ्तर बांद्रा वेस्ट के पाली हिल रोड पर स्थित है. बीएमसी की टीम जेसीबी लेकर वहां पहुंची. 

इसे भी पढ़ें: रोजगार के सवाल पर प्रवासी मजदूरों को हेमंत सरकार ने दिया धोखा : रघुवर दास

कंगना के दफ्तर के बाहर से जो तस्वीरें और वीडियो सामने आए हैं, उसमें बड़ी संख्या में बीएमसी के कर्मचारी और पुलिस वाले दिख रहे हैं। साथ ही बीएमसी की टीम दफ्तर पर जेसीबी चला रही है।

इस बीच कंगना रनौत ने भी खुद ट्वीट कर इस कार्रवाई की तस्वीरें पोस्ट की हैं और एक बार फिर मुंबई की तुलना 'पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर' से की है.

गौरतलब है कि उनके पिछले ऐसे बयान को लेकर हंगामा मचा था.

कंगना बुधवार को ही हिमाचल प्रदेश से मुंबई लौट रही हैं.

उन्होंने रास्ते से ही ट्वीट करते हुए लिखा "ऐसे समय जब मैं मुंबई दर्शन के लिए एयरपोर्ट निकल रही हूँ, महाराष्ट्र सरकार और उनके गुंडे मेरी प्रॉपर्टी को अवैध तरीके से तोड़ने के लिए पहुँच गए हैं."

इस बीच समाचार एजेंसी एएनआई ने ख़बर दी है कि कंगना रनौत के वकील ने बंबई हाई कोर्ट में बीएमसी की कार्रवाई के विरूद्ध अपील दायर की है जिसपर आज सुनवाई हुई.

इससे पहले सोमवार को कंगना रनौत के मुंबई के पाली हिल स्थित दफ़्तर पर बीएमसी की एक टीम पहुंची थी जिसके बाद कंगना ने दावा किया था कि उनका बंगला तोड़ा जा सकता है.

इससे पहले सोमवार को कंगना रनौत के मुंबई के पाली हिल स्थित दफ़्तर पर बीएमसी की एक टीम पहुंची थी जिसके बाद कंगना ने दावा किया था कि उनका बंगला तोड़ा जा सकता है.

आज जब बीएमसी की टीम कार्रवाई को पहुंची, तो कंगना ने ट्वीट के जरिए मोर्चा खोल दिया.

कंगना ने एक के बाद एक कर कई ट्वीट किए हैं. और कहा है कि सब याद रखा जाएगा. 

याद रख बाबर, यह मंदिर फिर बनेगा

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस विधायक इरफान के खिलाफ योग शिक्षिका राफिया की शिकायत पर अदालत में तेजी से सुनवाई होगी

दफ्तर तोड़े जाने को लेकर कंगना ने एक ट्वीट में कहा, 'मणिकर्णिका फिल्म्ज में पहली फिल्म अयोध्या की घोषणा हुई, यह मेरे लिए एक इमारत नहीं राम मंदिर ही है, आज वहां बाबर आया है, आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा यह मंदिर फिर बनेगा, जय श्री राम , जय श्री राम , जय श्री राम. 

कंगना ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कुछ तस्वीरें शेयर की हैं, जिनमें उनके मुताबिक पुलिस और बीएमसी के लोग हथौड़ा और बुलडोजर के साथ दिख रहे हैं. इन तस्वीरों के साथ कंगना ने लिखा- बाबर और उसकी सेना। इसके साथ हैशटैग लगाया- #deathofdemocracy.

मेरा मुंबई अब पीओके

आगे उन्होंने एक और ट्वीट किया और फोटो के साथ पाकिस्तान शब्द का इस्तेमाल किया. उन्होंने लिखा, मैं कभी गलत नहीं हूं और मेरे दुश्मन बार-बार साबित कर देते हैं. यही कारण है कि मेरा मुंबई अब पीओके है. 

हाल ही में कंगना रनौत ने कहा था कि वे मुंबई में वो खुद को सुरक्षित महसूस नहीं करती हैं.

कंगना ने मुंबई की तुलना पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से की थी जिसके बाद महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख से लेकर शिवसेना के नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कंगना पर निशाना साधा था.

बीएमसी के इस दौरे को शिवसेना सांसद संजय राउत और कंगना के बीच चल रही कड़वाहट भरी बयानबाज़ी से जोड़ कर देखा जा रहा है.

दरअसल पिछले कुछ समय से कंगना अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को लेकर लगातार मुंबई पुलिस के काम पर सवाल उठा रही हैं.

उन्होंने बीते हफ़्ते एक ट्वीट में लिखा था कि वो मुंबई में खुद को असुरक्षित महसूस करती हैं और साथ ही यह भी लिखा था कि वो मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं करती हैं.

उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर से की थी जिसके बाद संजय राउत ने कंगना पर आरोप लगाया था कि वो महाराष्ट्र का अपमान कर रही हैं. इसके बाद से इन दोनों के बीच ट्विटर पर तू तू मैं मैं चल रही है.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

Stay Connected

Facebook Google twitter