बिहार चुनाव: गुप्तेश्वर पांडेय नहीं लड़ेंगे चुनाव, समर्थकों से बोले, 'धीरज रखें, मेरा जीवन संघर्ष में ही बीता है'

बिहार चुनाव: गुप्तेश्वर पांडेय नहीं लड़ेंगे चुनाव, समर्थकों से बोले, 'धीरज रखें, मेरा जीवन संघर्ष में ही बीता है'
File Photo -Courtesy ANI
पीबी ब्यूरो ,   Oct 08, 2020

पिछले महीने ही नौकरी से वीआरएस लेने और जदयू में शामिल हुए बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा है कि इस बार वे विधानसभा चुनाव नहीं लड़ रहे हैं. 

बिहार पुलिस के डीजीपी रहे गुप्तेश्वर पांडेय ने ये ताजा बयान फ़ेसबुक पर जारी किया है. इसके पहले जेडीयू ने बुधवार को बिहार विधानसभा चुनाव के लिए 115 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की, इसमें गुप्तेश्वर पांडेय का नाम नहीं था.

फेसबुक पर उन्होंने लिखा है, "मेरे सेवामुक्त होने के बाद सबको उम्मीद थी कि मैं चुनाव लड़ूंगा, लेकिन मैं इस बार विधानसभा का चुनाव नहीं लड़ रहा. हताश निराश होने की कोई बात नहीं है. धीरज रखें. मेरा जीवन संघर्ष में ही बीता है."

इससे पहले राजनीतिक हलकों में चर्चा थी कि विधानसभा चुनाव के ठीक पहले पुलिस सेवा से रिटायर होकर वे चुनाव लड़ेंगे. माना जा रहा था कि वो बक्सर से चुनाव में जेडीयू के उम्मीदवार बन सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: विपक्ष पर योगी का हमला, बोले, दंगों के सरपरस्तों से रहें होशियार

हालांकि बक्सर की सीट बीजेपी के खाते में चली गई. जब जेडीयू ने उनके नाम की घोषणा नहीं कि तो कयास लगाए जा रहे थे कि बीजेपी बक्सर से उन्हें चुनाव लड़वा सकती है. लेकिन उनके समर्थकों के इस उम्मीद पर भी तब पानी फिर गया जब बीजेपी ने बक्सर से परशुराम चतुर्वेदी के नाम की घोषणा नहीं की. 

बिहार के डीजीपी रहे गुप्तेश्वर पांडेय ने बीते महीने वीआरएस यानी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली थी और उसके बाद वो बिहार की सत्ताधारी पार्टी जनता दल यूनाइटेड में शामिल हो गए थे.

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अपने बयानों से देश भर में चर्चा का केंद्र बने गुप्तेश्वर पांडेय का नाम जेडीयू उम्मीदवारों की सूची में नहीं आया तो इसे लेकर भी सोशल मीडिया पर खूब चर्चा हुई. बाद में पांडेय ने फ़ेसबुक पर बयान जारी किया.


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

निर्वाचन आयोग ने खुद को कलंकित किया, इसे भंग किया जाए, इसके सदस्यों की जांच हो: आनंद शर्मा
निर्वाचन आयोग ने खुद को कलंकित किया, इसे भंग किया जाए, इसके सदस्यों की जांच हो: आनंद शर्मा
ममता बनर्जी 5 मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ, लगातार तीसरा मौका
ममता बनर्जी 5 मई को लेंगी मुख्यमंत्री पद की शपथ, लगातार तीसरा मौका
हल्के लक्षण होने पर सीटी-स्कैन कराने का कोई लाभ नहीं- डॉ. रणदीप गुलेरिया
हल्के लक्षण होने पर सीटी-स्कैन कराने का कोई लाभ नहीं- डॉ. रणदीप गुलेरिया
शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर पीने से दो की मौत, दो अन्य बीमार
शराब नहीं मिलने पर सैनिटाइजर पीने से दो की मौत, दो अन्य बीमार
अस्पतालों में बेड का इंतजार करना अधिक मौत की वजह हो सकती है-रणदीप गुलेरिया
अस्पतालों में बेड का इंतजार करना अधिक मौत की वजह हो सकती है-रणदीप गुलेरिया
गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से 14 कोरोना मरीज समेत 16 की मौत
गुजरात के भरूच में एक अस्पताल में आग लगने से 14 कोरोना मरीज समेत 16 की मौत
भाजपा पश्चिम बंगाल में आराम से और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगीः भूपेंद्र यादव
भाजपा पश्चिम बंगाल में आराम से और पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनाएगीः भूपेंद्र यादव
वैक्सीन को लेकर हेमंत सरकार केंद्र पर दोष मत मढ़े,  राज्य के पास 6.44 लाख टीका उपलब्धः दीपक प्रकाश
वैक्सीन को लेकर हेमंत सरकार केंद्र पर दोष मत मढ़े, राज्य के पास 6.44 लाख टीका उपलब्धः दीपक प्रकाश
अमेरिका से चिकित्सा एवं राहत सामग्री की पहली खेप भारत पहुंची, कहा- कोविड से मिलकर लड़ेंगे
अमेरिका से चिकित्सा एवं राहत सामग्री की पहली खेप भारत पहुंची, कहा- कोविड से मिलकर लड़ेंगे
हेमंत सोरेन ने लगवाया कोरोना का टीका, बोले-अफवाहों पर ना दें ध्यान, वैक्सीन है जरूरी
हेमंत सोरेन ने लगवाया कोरोना का टीका, बोले-अफवाहों पर ना दें ध्यान, वैक्सीन है जरूरी

Stay Connected

Facebook Google twitter