बिहारः मंत्रियों के बीच विभागों का हुआ बंटवारा, 23 को स्पीकर का चुनाव, जीतनराम मांझी प्रोटेम स्पीकर

बिहारः मंत्रियों के बीच विभागों का हुआ बंटवारा, 23 को स्पीकर का चुनाव, जीतनराम मांझी प्रोटेम स्पीकर
Twitter BJP ( डिप्टी सीएम बने हैं बीजेपी के तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी)
पीबी ब्यूरो ,   Nov 17, 2020

बिहार में नीतीश कुमार की अगुवाई में गठित सरकार के मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा कर दिया गया है. सोमवार को भाजपा, जदयू, हम और वीआईपी के एक- एक मंत्री ने पद की शपथ ली है. 

इसके साथ ही नीतीश कैबिनेट की पहली बैठक आज हुई. कैबिनेट ने 23 नवंबर से 27 नवंबर तक विधानमंडल के सत्र की मंजूरी दी है.

25 को विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा. जबकि 26 को राज्यपाल का अभिभाषण होगा. इसके अगले दिन 27 नवंबर को  अभिभाषण पर वाद-विवाद और सरकार का उत्तर होगा.

जीतन राम मांझी को प्रोटेम स्पीकर बनाया जा रहा है. सत्र में प्रोटेम स्‍पीकर नए सदस्‍यों को शपथ दिलाएंगे. फिर, स्‍पीकर का चुनाव होगा.

गृह और प्रशासन सीएम के पास

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस और 'गुपकर गैंग’जम्मू-कश्मीर को आंतक युग में वापस ले जाना चाहते हैं- अमित शाह

एम नीतीश कुमार के पास गृह विभाग रहेगा. साथ ही सामान्य प्रशासन, कैबिनेट, निगरानी और निर्वाचन विभाग भी मुख्यमंत्री के पास रहेगा. 

भाजपा से तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी को उपमुख्यमंत्री बनाया गया है.  

तारकिशोर प्रसाद को वित्त, वाणिज्य कर, पर्यावरण व वन, आपदा प्रबंधन, सूचना प्रौद्योगिकी तथा नगर विकास की जिम्मेवारी दी गई है.

 रेणु देवी को पंचायती राज, पिछड़ा एवं अत्यंत पिछड़ा कल्याण तथा उद्योग विभाग सौंपा गया है.

बीजेपी कोटे से मंत्री बने मंगल पांडेय को एक बार फिर से स्वास्थ्य विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. इसके अलावा उन्हें पथ निर्माण विभाग भी दिया है.

अमरेंद्र प्रताप सिंह को कृषि  विभाग, रामप्रीत पासवान को पीएचईडी विभाग की जिम्मेदारी मिली है. 

रामसूरत राय को राजस्व और कानून मंत्री की जिम्मेदारी दी गई है. 

भाजपा से ही जीवेश मिश्रा को पर्यटन, श्रम और खनन मंत्री बनाए गए हैं.

भाजपा के अमरेंद्र प्रताप सिंह को कृषि, सहकारिता और गन्ना विभाग का मंत्री बनाया गया है. जबकि रामप्रीत पासवान के पास लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग की जिम्मेवारी रहेगी. 

जदयू कोटा के मंत्रियों को कौन विभाग

बिहार सरकार में नवगठित मंत्रियों में जदयू कोटे से मंत्री बने अशोक चौधरी को भवन निर्माण, समाज कल्याण, विज्ञान प्रद्योगिकी विभाग मिला है.

इसे भी पढ़ें: 15 नवंबरः अलग राज्य गठन के दिन उपवास पर क्यों बैठे झारखंड के हजारों आंदोलनकारी

मेवा लाल चौधरी को शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी दी गई है. 

जदयू की शीला मंडल को परिवहन विभाग का मंत्री बनाया गया है.. 

विजय चौधरी को ग्रामीण कार्य और ग्रामीण विकास विभाग की जिम्मेदारी दी गई है.

विजेंद्र यादव को ऊर्जा, मद्य निषेध, योजना और खाद्य तथा उपभोक्ता मामलों के विभाग का मंत्री बनाया गया है.

हिन्षदुस्तानी अवाम मोर्चा के  कुमार सुमन को लघु जल संसाधन मंत्री बनाया गया है.

मुजबकि वीआईपी के मुकेश साहनी को मतस्पय पालन और पशुपालन विभाग का मंत्री बनाया गया है.   

 

 

 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन
कांग्रेस के कद्दावर नेता अहमद पटेल का निधन
बिहार में स्पीकर का चुनाव: भाजपा के विजय सिन्हा के मुकाबले राजद ने अवध बिहारी चौधरी को उतारा
बिहार में स्पीकर का चुनाव: भाजपा के विजय सिन्हा के मुकाबले राजद ने अवध बिहारी चौधरी को उतारा
कंगना की गिरफ्तारी पर मुंबई हाईकोर्ट ने लगाई रोक
कंगना की गिरफ्तारी पर मुंबई हाईकोर्ट ने लगाई रोक
बिहार: एआईएमआईएम के विधायक ने शपथ में हिन्दुस्तान शब्द नहीं पढ़ा, बीजेपी बोली, पाकिस्तान चले  जाएं
बिहार: एआईएमआईएम के विधायक ने शपथ में हिन्दुस्तान शब्द नहीं पढ़ा, बीजेपी बोली, पाकिस्तान चले जाएं
असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का निधन
असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई का निधन
क्यों सुर्खियों में है कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोलप का एक पोस्ट, 'जब मां मेरे ऑफिस में आई थी'
क्यों सुर्खियों में है कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोलप का एक पोस्ट, 'जब मां मेरे ऑफिस में आई थी'
राजद ने पूछा, सीएम नीतीश कुमार के नवरत्नों में भ्रष्टाचारी ही क्यों हैं?
राजद ने पूछा, सीएम नीतीश कुमार के नवरत्नों में भ्रष्टाचारी ही क्यों हैं?
कांग्रेस के सहयोग से गुपकार संगठन के लोग देश को अलगाव में झोंक रहे हैं : नित्यानंद राय
कांग्रेस के सहयोग से गुपकार संगठन के लोग देश को अलगाव में झोंक रहे हैं : नित्यानंद राय
ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजाः कॉमेडियन भारती सिंह के बाद पति हर्ष भी गिरफ्तार
ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजाः कॉमेडियन भारती सिंह के बाद पति हर्ष भी गिरफ्तार
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत
प्यार में 'जिहाद' की कोई जगह नहीं, बांटने के लिए भाजपा ने गढ़ा 'लव जिहाद' शब्द : अशोक गहलोत

Stay Connected

Facebook Google twitter