पिछड़े राज्यों में शुमार है झारखंड, पांच साल का कलंक धोएंगेः हेमंत सोरेन

पिछड़े राज्यों में शुमार है झारखंड, पांच साल का कलंक धोएंगेः हेमंत सोरेन
पीबी ब्यूरो ,   Jan 01, 2020

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि पिछड़े राज्यों में शुमार झारखंड को आगे जाने की जो बड़ी जिम्मेदारी हमें मिली है उसे आपके समर्थन से निभाएंगे. कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं मरेगा. और कोई ऐसा काम नहीं होगा, ऐसे नियम कानून नहीं बनेंगे जिससे जनमानस दुखी हो. क्रोधित हो. पांच साल का जो कलंक हैं, उन्हें भी हम धोएंगे. 

हेमंत सोरेन ने खरसावां गोलीकांड़ के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के बाद आयोजित सभा में यह बातें कही. 29 दिसंबर को सत्ता की बागडोर संभालने के बाद हेमंत सोरेन पहली बार सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए रांची से बाहर निकले. 

उन्होंने कहा कि खरसावां गोलीकांड़ के शहीदों के आश्रितों को सरकार खोज-खोज कर नौकरी देगी. इससे पहले हमारी सरकार में गुआ गोलीकांड में शहीदों के परिजनों को खोज-खोज कर नौकरी दी गई थी. एक परिवार से कोई नहीं मिला है. उनकी नौकरी अब तक रखी हुई है. शहीदों के परिवारों को सरकार सम्मानजनक पेंशन भी देगी.  

उन्होंने कहा कि चुनाव के वक्त इसी मैदान में वे सभा करने आए थे तब हमने कहा था कि अलग राज्य मिल गया है. लेकिन हम अपने घर में घुस नहीं सके हैं. 

इसे भी पढ़ें: केरल विधानसभा में सीएए के विरोध में पारित प्रस्‍ताव असंवैधानिकः राज्यपाल आरिफ खान

उन्होंने कहा, ''आपने हमें इस राज्य को आगे ले जाने की बड़ी जिम्मेदारी दी है. सबका प्यार और समर्थन मिल रहा है. अभी शुरुआत कर रहे हैं. हमने पहले ही कहा है कि थोड़ा लजाते, शरमाते हैं. बोलते कम हैं, लेकिन करते जरूर हैं.'' 

हेमंत सोरेन ने कहा, ''बीते पांच साल बेहद कष्ट भरे थे. आपलोगों ने इसे महसूस किया. साथ ही अहसास किया होगा कि पहली कैबिनेट में ही जो निर्णय लिए गए, उसमें संदेश है. संदेश में कई चीजे हैं. अब राज्य हित में ही कोई काम होगा. झारखंडियों के हित में ही कदम उठाए जाएंगे''. 

उन्होंने कहा, ''पांच साल के हालात देखकर ही आपने अपनी ताकत इकट्ठा कर मजबूत प्रयास किया. तब आपकी सरकार बैठी इस राज्य में. लिहाजा आप तय करेंगे कि घर को कैसे सजाएंगे. माध्यम हंम जरूर बनेंगे. झारखंड के शहीद और वीर ही हमारे आदर्श हैं. इसलिए विश्वास रखिए इस बेटे, भाई और दोस्त पर. एक तरफ जिम्मेदारी, आशा और चुनौती का पहाड़ है, दूसरी तरफ अव्यवस्था की खाई. बीच का रास्ता निकालकर हम राज्य को आगे जाएंगे''. 

मुख्यमंत्री ने कहा, काफी पीड़ा है हमारे मन में. शपथ ग्रहण के बाद हमारे पास लोग लगातार आ रहे हैं. जन आकांक्षाएं हिलोरे ले रही हैं. हम भी इंसान हैं. कभी-कभी डर जाते हैं. लेकिन प्रयास करेंगे कि मेरे हाथों से कोई गलती काम नहीं हो, जिससे राज्य का नुकसान हो. हमारा हर कदम राज्य का मान सम्मान बढ़ाएगा. हम चाहते हैं कि सबकी सुरक्षा हो. सबको शिक्षा मिले. झारखंड को सोने की चिड़ियां बनाएंगे. 

जेएमएम नेता ने बेबाकी से कहा, ''यहां कई लोग बोलते हैं, कि झारखंड मुक्ति मोर्चा उदंड है. भय फैलाता है. हमलोग मारते-पीटते, काटते हैं. हम चुनौती देकर कहते हैं, बता दो कि कौन आदिवासी भाई किसी को मारता पीटता है. हमारा समाज कभी देश द्रोही नहीं हो सकता. आदिवासियों को बेवजह फंसाया गया. हां ये सच है कि जब जब अत्याचर हुआ है, आदिवासियों ने विरोध की आवाज मुखर की है''. 

उन्होंने कहा, उद्योग लगाने के नाम पर हमेशा खतरा पैदा किया गया. लोगों की जमीन चली गई हमारी. खेती-बाड़ी चला गया. लोग विस्थापित हो गए. लेकिन नौकरी भी दूसरों को मिलने लगी दूसरे को. अब सरकार का दायित्व होगा कि ये तालमेल और सामंजस कैसे बनेगा. जहां उद्योग लगेगा वहां जमीन मालिकों को सरकार संरक्षण देगी और उद्योग लगाने वाले घरानों को भी संरक्षण सरकार देगी. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कांग्रेस के 'दिशाहीन' होने की धारणा को दूर करने के लिए पूर्णकालिक अध्‍यक्ष चुनना ही होगा: शशि थरूर
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
कोविड-19 : देश में मरने वालों का आंकड़ा 43 हजार पार, 15 लाख लोग ठीक भी हुए
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
झारखंड आंदोलनकारी और सोशल एक्टिविस्ट बशीर अहमद नहीं रहे, शोक की लहर
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
बीजेपी के नेता पहुंचे राजभवन, बताया, स्पीकर सरकार के इशारे पर बाबूलाल को नेता प्रतिपक्ष नहीं बना रहे
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
नई शिक्षा नीति पूरी तरह से लागू होगी, अब 'क्या सोचना है' नहीं 'कैसे सोचना है ' पर जोरः पीएम मोदी
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
कोरोनाः तोड़े सारे रिकॉर्ड, देश में 24 घंटों में मिले 62 हजार से अधिक मरीज
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
सुशांत केसः सीबीआई ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की एफआईआर
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
जम्मू-कश्मीरः मनोज सिन्हा बने नए उपराज्यपाल, जीसी मुर्मू ने इस्तीफा दिया
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
झारखंड में भी गूंज, अवधपुरी आए रघुनंदन ...
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी
राम न्याय हैं, वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकतेः राहुल गांधी

Stay Connected

Facebook Google twitter