उंगली पर दिन गिनते बाबूलाल और बीजेपी, 17 को गले लग जाएंगे, कल जेवीएम कार्यकारिणी की बैठक

उंगली पर दिन गिनते बाबूलाल और बीजेपी, 17 को गले लग जाएंगे, कल जेवीएम कार्यकारिणी की बैठक
पीबी ब्यूरो ,   Feb 10, 2020

अगले कुछ दिनों में झारखंड की सियासत में बड़ा उलटफेर होने जा रहा है. बीजेपी और बाबूलाल मरांडी उंगली पर दिन गिन रहे हैं. 17 को जेवीएम का बीजेपी में विलय लगभग तय है.

इसके लिए रांची में भव्य कार्यक्रम होगा, जिसमें बीजेपी के दिग्गजों के सामने बाबूलाल की घर वापसी होगी. 

इससे पहले कल,11 फरवरी को जेवीएम कार्यसमिति की बैठक बुलाई गई है. यह बैठक रांची में होगी. इसमें बीजेपी में विलय से संबंधित प्रस्ताव पारित किया जाएगा. 

बाबूलाल मरांडी 14 साल बाद वापस बीजेपी मे जा रहे हैं. विहिप और बीजेपी से ही उन्होंने राजनीति शुरू की थी. 2006 में वे बीजेपी से अलग हो गए थे. फिर अपनी पार्टी बनाई. 

झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 के परिणाम आने के बाद ही बीजेपी में बाबूलाल के जाने की अटकलें लगती रही. धीरे- धीरे बीजेपी और बाबूलाल मरांडी एक दूसरे के करीब आते रहे. माना जा रहा है कि अब तैयारियां अंतिम पड़ाव पर है. 

इसे भी पढ़ें: शाहीन बाग पर सु्प्रीम कोर्ट ने कहा, रास्ता नहीं रोक सकते, हर कोई ऐसा करने लगे तो क्या होगा?

17 को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर रांची आने वाले हैं. वैसे आधिकारिक तौर पर दोनों दलों ने विलय और कार्यक्रमों की घोषणा नहीं की है. 

लेकिन झारखंड विकास मोर्चा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी का कहना है कि 11 फरवरी को जेवीएम की कार्यसमिति की बैठक में विलय का प्रस्ताव लाया जाएगा. 17 को बीजेपी में जाने की तारीख भी लगभग तय है. इसमें बदलाव की गुंजाइश नहीं दिखती. 

कार्यकारिणी की बैठक में भाजपा में विलय का प्रस्ताव पारित किया जायेगा. इसलके बाद बाद भाजपा नेतृत्व को विलय का प्रस्ताव भेजा जाएगा. जिस पर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अपनी  सहमति प्रदान करेंगे़ 

बीजेपी के अंदरखाने से जो बातें निकलकर सामने आ रही हैं उस मुताबिक पार्टी ने झारखंड भाजपा को इसकी तैयारी का निर्देश दे दिया है.  भाजपा भव्य आयोजन करना चाहती है. इसमें पार्टी के सभी सांसद, विधायक और पदाधिकारी रहेंगे. 

इस बीच बाबूलाल मरांडी आज रांची आने वाले हैं. कई दिनों से वे राज्य से बाहर हैं. इस दौरान दिल्ली में जेपी नड्डा, अमित शाह और ओम माथुर से उनकी मुलाकात की खबर है. 

इधर जेवीएम के प्रधान महासचिव अभय सिंह बाकी काम संभाले हुए हैं. 


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
राहुल गांधी की बात कांग्रेस के मुख्यमंत्री भी नहीं सुनतेः रविशंकर प्रसाद
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
मोदी सरकार 2.0 के एक साल पूरे: देश के नाम चिट्ठी में पीएम बोले- हमें अपने पैरों पर खड़ा होना होगा
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
झारखंडः 3 लाख 58 हजार लोग अब तक वापस लौटे, प्रवासी मजदूरों का डेटाबेस तैयार करा रही सरकार
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
शिक्षा मंत्री पहले अपने काम और कद को समझें, बाहर कुछ कहते हैं अंदर कुछः चंद्रप्रकाश चौधरी
शिक्षा मंत्री पहले अपने काम और कद को समझें, बाहर कुछ कहते हैं अंदर कुछः चंद्रप्रकाश चौधरी
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा

Stay Connected

Facebook Google twitter