इस समय घर में रहना, देश के लिये युद्ध लड़ना, क्रिकेट इंतजार करेगा : चेतेश्वर पुजारा

इस समय घर में रहना, देश के लिये युद्ध लड़ना, क्रिकेट इंतजार करेगा : चेतेश्वर पुजारा
facebook- Pujara
पीबी ब्यूरो ,   Apr 05, 2020

भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा चाहते हैं सभी देशवासी घर पर रहें क्योंकि कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई घर पर रहकर ही जीती जा सकती है.

पुजारा उन शीर्ष भारतीय खिलाड़ियों में से एक है जिन्होंने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के तरीकों पर चर्चा के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई वीडियो कॉल में हिस्सा लिया था। देश में अभी 21 दिन का लॉकडाउन चल रहा है.

भारत के मुख्य टेस्ट बल्लेबाज ने कहा, ‘‘इस समय प्रत्येक व्यक्ति एक सैनिक है. अगर आप इंडोर रहोगे तो आप अपने देश के लिये युद्ध लड़ रहे हो. इसके लिये एकजुट प्रयास की जरूरत है, वर्ना हम इसे जीत नहीं सकते. ’’

पिछले महीने सौराष्ट्र को पहला रणजी ट्राफी खिताब दिलाने में मदद करने वाले पुजारा ने सोचा नहीं होगा कि वह इस तरह घर पर समय व्यतीत कर रहे होंगे। हालांकि वह इस ब्रेक का आनंद ले रहे हैं और उनका ज्यादातर समय अपनी दो साल की बेटी के साथ खेलने में जाता है.

वह अपनी बेटी के साथ प्लास्टिक के बल्ले से खेलते हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा मुझे अपनी बेटी के लिये करना होता है. अभी क्रिकेट इंतजार कर सकता है. ’’

इसे भी पढ़ें: चीन ने दुनिया को घोर संकट में डाला, उसके बहिष्कार के लिए भारत कूटनीतिक पहल करे: रामदेव

लेकिन फिटनेस से कोई समझौता नहीं जिसके लिये वह घर पर बने जिम में एक्सरसाइज करते हैं.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं हर चीज को सकारात्मक रूप से लेता हूं. कभी कभार आपको खिलाड़ी के तौर पर एक ब्रेक लेने की जरूरत होती है और इससे बेहतर समय कुछ और नहीं हो सकता. हमने हाल में रणजी ट्राफी जीती और तीन से चार हफ्ते ब्रेक लेने का इससे अच्छा समय नहीं हो सकता था. ’’

पुजारा ने कहा, ‘‘मैं भाग्यशाली हूं कि मेरे घर में जिम है. छोटे शहर में रहते हुए मैं बाहर जिम में जाकर ट्रेनिंग नहीं कर सकता क्योंकि लोग मुझे घेर लेंगे। घर पर जिम की वजह से मैं अपने स्ट्रेंथ सत्र, साइकिलिंग और रनिंग कर सकता हूं. मैं योग भी करता हूं जिससे काफी मदद मिलती है. ’’

उन्हें ब्रिटेन में काउंटी क्रिकेट खेलने के लिये जाना था लेकिन वहां भी 28 मई तक क्रिकेट स्थगित हो गया है और काउंटी चैम्पियनशिप अब रद्द होने की संभावना भी लग रही है.

(


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
कोरोना तेरे कारणः 124 वर्षों में पहली बार रद्द की गई बोस्टन मैराथन
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल में दी मंदिर-मस्जिद खोलने की इजाजत
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी का निधन
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
चीन के साथ ताजा सीमा विवाद को लेकर नरेंद्र मोदी का मूड अच्छा नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
लॉकडाउन के बाद गेंदबाजों के लिए लय हासिल करना मुश्किल होगा : ब्रेट ली
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
रांचीः क्वारंटाइन में रहने के बाद गांधीनगर अस्पताल के डॉक्टर, नर्स ने फिर संभाला मोर्चा
प्रवासी मज़दूरों से किराया नहीं लिया जाए और खाना भी मुहैया कराएं- सुप्रीम कोर्ट
प्रवासी मज़दूरों से किराया नहीं लिया जाए और खाना भी मुहैया कराएं- सुप्रीम कोर्ट
चाईबासाः मुठभेड़ में पीएलएफआई की एक महिला समेत तीन उग्रवादी मारे गए, एके 47 बरामद
चाईबासाः मुठभेड़ में पीएलएफआई की एक महिला समेत तीन उग्रवादी मारे गए, एके 47 बरामद
अब लॉकडाउन खत्म करना ही होगा, इसे बढ़ाने का मतलब नहींः किरण मजूमदार शॉ
अब लॉकडाउन खत्म करना ही होगा, इसे बढ़ाने का मतलब नहींः किरण मजूमदार शॉ
फीस माफी पर निजी स्कूल राजी नहीं, जगरनाथ बोले, 'शिक्षा मंत्री की बात भी आपने नहीं मानी'
फीस माफी पर निजी स्कूल राजी नहीं, जगरनाथ बोले, 'शिक्षा मंत्री की बात भी आपने नहीं मानी'

Stay Connected

Facebook Google twitter