अमरनाथ यात्राः कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना

अमरनाथ यात्राः कड़ी सुरक्षा के बीच श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना
Courtesy- WikiMedia Commons
पीबी ब्यूरो ,   Jul 01, 2019

जम्मू-कश्मीर में श्रद्धालुओं का पहला जत्था आज कड़ी सुरक्षा के बीच अमरनाथ यात्रा के लिए रवाना हो गया. 46 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा के लिए इस बार 1.6 लाख लोगों ने अपने नाम का रजिस्ट्रेशन कराए हैं.

जबकि यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इस बार सुरक्षा बलों के 40,000 से ज्यादा जवानों की तैनाती की गई है. 

समाचार एजेंसी एएआई के मुताबिक सुरक्षा बलों ने संवेदनशील इलाकों में चौकसी बरतना शुरू कर दिया है. खबरों के मुताबिक बलताल से आज 1617 तथा पहलगाम से 2800 यात्रियों ने अमरनाथ के लिए यात्रा की शुरुआत की .

इन श्रद्धालुओं में  800 से ज्यादा महिलाएं और 31 बच्चे भी शामिल हैं. साथ ही साधु संत भी यात्रा पर निकले हैं. 

खबरों के मुताबिक अमरनाथ यात्रा के मद्देनजर सीआरपीएफ ने  हमले को रोकने के लिए अपनी कई विशेष टीमों को तैनात किया है. यात्रा के दौरान ये टीमें अलग-अलग सड़कों और वाहनों पर नजर रखेंगी. 

इसे भी पढ़ें: स्टार्टअप इंडिया में झारखंड 17 वें पायदान पर, महाराष्ट्र अव्वल

एनडीटीवी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने पत्रकारों से बातचीत में कहा, ‘यात्रा के दौरान सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है और हम इसका ध्यान रख रहे हैं. लेकिन पुलिस या सेना यात्रा का संचालन नहीं करतीं. सालों से कश्मीर के लोग अमरनाथ यात्रा का संचालन कर रहे हैं, खास तौर पर हमारे मुस्लिम भाई. यात्रा उन्हीं के समर्थन से होती है.’

इससे पहले जम्मू-कश्मीर पुलिस के प्रमुख दिलबाग सिंह ने रविवार को श्रीनगर-जम्मू नेशनल हाइवे पर सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया. वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी पिछले हफ्ते यात्रा को लेकर किए गए सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की थी.

रविवार को ही प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा, ‘यह एक शांतिपूर्ण यात्रा होगी. अगले साल से हमें सुरक्षा को लेकर बिलकुल चिंतित नहीं होना पड़ेगा.’


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया
कोरोना के बीच क्यों सुर्खियों में हैं डॉक्टर सुधीर डेहरिया
उत्तर प्रदेश में 25 साल के युवक की मौत, देश भर में मरने वालों का आंकड़ा 35 तक पहुंचा
उत्तर प्रदेश में 25 साल के युवक की मौत, देश भर में मरने वालों का आंकड़ा 35 तक पहुंचा
बीजेपी बोली, झारखंड के धार्मिक स्थलों में ठहरे विदेशियों ने संक्रमण लाया और सरकार देखती रही
बीजेपी बोली, झारखंड के धार्मिक स्थलों में ठहरे विदेशियों ने संक्रमण लाया और सरकार देखती रही
निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के आयोजन के बाद मेरठ और मुज्जफरनगर अलर्ट पर
निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के आयोजन के बाद मेरठ और मुज्जफरनगर अलर्ट पर
कोरोना संकट के बीच तबलीगी जमात में अनुमानित 1700 लोग शामिल हुए थे,सख्त कार्रवाई होनी चाहिएः मंत्री
कोरोना संकट के बीच तबलीगी जमात में अनुमानित 1700 लोग शामिल हुए थे,सख्त कार्रवाई होनी चाहिएः मंत्री
प्रशांत किशोर ने कहा, नीतीश कुमार गद्दी छोड़ दें, जदयू का पलटवार, ट्वीट पर घटिया राजनीति मत करें
प्रशांत किशोर ने कहा, नीतीश कुमार गद्दी छोड़ दें, जदयू का पलटवार, ट्वीट पर घटिया राजनीति मत करें
सोशल मीडिया पर आपातकाल लगाने के संदेश फर्जी: सेना
सोशल मीडिया पर आपातकाल लगाने के संदेश फर्जी: सेना
 नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 32 हुई
नजाकत समझें और संभलें, भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 32 हुई
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
स्पाइसजेट का पायलट कोरोना वायरस से संक्रमित, चालक दल हुए होम क्वारंटाइन
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था
'मन की बात' में बोले पीएम मोदी, असुविधा के लिए क्षमा, पर इसके बिना कोई रास्ता नहीं था

Stay Connected

Facebook Google twitter