JEE-NEET की परीक्षा के लिए छात्रों को मजबूर नहीं किया जाना चाहिएः सोनू सूद

 JEE-NEET की परीक्षा के लिए छात्रों को मजबूर नहीं किया जाना चाहिएः सोनू सूद
पीबी ब्यूरो ,   Aug 26, 2020

कोरोना और लॉकडाउन से उपजे असाधारण स्थिति के बीच प्रवासी मजदूरों की दिन- रात मदद के लिए आगे आने वाले बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने JEE-NEET की परीक्षाएं  टालने पर जोर दिया है. 

मेडिकल और इंजीनियरिंग के लिए प्रवेश परीक्षाएं की सितंबर में तारीखें तय कर दी गई है. 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने भी केंद्र सरकार से िन परीक्षाओं को टालने का आग्रह किया है. ममता बनर्जी तो दो बार पक्ष लिख चुकी हैं. 

कुछ देर पहले ही सोनू सूद ने अपने फेसबुक वाल पर लिका है. ''युवा पीढ़ी की ताकत पर हमारा कल है. हमारी जिम्मेदारी है कि इनके जोश को होश के साथ आगे बढ़ा सके। सकारात्मक ताकतों पर लगा सके. अगर युवापन सरकार तक अपनी आवाज पहुंचाने की कोशिश कर रहा है तो क्या गलत कर रहा है. बातों से ही बात बनती है. मुझे पूर्ण विश्वास है कि संवाद बनेगा और स्टूडेंट के हित में फैसला होगा.'' 

इससे पहले एनडीटीवी से बातचीत में सोनू सूद कहा कि बच्चों को इस महामारी के बीच में परीक्षाएं देने के लिए बाहर निकलने को मजबूर नहीं किया जाना चाहिए.

इसे भी पढ़ें: बाबा बैद्यनाथ मंदिर में एक दिन में 200 और बासुकीनाथ मंदिर में 160 लोग कर सकेंगे दर्शन

उन्होंने कहा, 'हम इन छात्रों को बाहर निकलने और परीक्षाएं देने के लिए मजबूर नहीं कर सकते हैं. हमें इनका समर्थन करना ही होगा. 26 लाख छात्र इन परीक्षाओं में शामिल होने वाले हैं.' सूद ने कहा कि बच्चों और उनके माता-पिता को कम से दो से तीन महीने का वक्त दिया जाना चाहिए ताकि बच्चे मानसिक रूप से तैयार होने के बाद परीक्षा में शामिल हो सकें.

उन्होंने कहा, 'अधिकतर छात्र बिहार से हैं, जहां कम से कम 13 से 14 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं. आप कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि वो यात्रा करके परीक्षा देने आएं? उनके पास पैसे नहीं हैं, रुकने के लिए जगह नहीं है. हम इन छात्रों को परीक्षा देने के लिए बाहर निकलने पर मजबूर नहीं कर सकते.'

सोनू सूद का मानना है कि 'उन्हें दो महीने का वक्त दीजिए. हमें परीक्षाओं को नवंबर-दिसंबर तक टाल देना चाहिए. ताकि छात्र जब मानसिक रूप से तैयार हों, तब परीक्षा दें.'

उन्होंने कहा, 'मैं भी एक इंजीनियर हूं. मुझे लगता है कि देश के लिए युवाओं की यह नई खेप बहुत जरूरी है, जो आगे चलकर बहुत से डिपार्टमेंट संभालने वाली है.' 

इससे पहले सोनू सूद ने मंगलवार को परीक्षाएं टालने के आग्रह के साथ एक ट्वीट भी किया था. उन्होंने लिखा था, 'देश में कोरोना की मौजूदा स्थिति को देखते हुए मैं सरकार से नीट-जेईई एग्जाम को स्थगित करने की अपील करता हूं. कोरोना की स्थिति को देखते हुए हमें ज्यादा ध्यान देना चाहिए और छात्रों की जान को जोखिम में नहीं डालना चाहिए.'


(आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

लोकप्रिय

कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
कृषि विधेयक किसानों के लिए मौत की सजा हैं: राहुल गांधी
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
पप्पू यादव ने बनाया प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन, कहा, 30 साल के महापाप को खत्म करना है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
लवली आनंद ने राजद का दामन थामा, बोलीं, नीतीश सरकार ने धोखा दिया है
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
मत विभाजन की मांग के वक्त सांसद शिवा सीट पर थे, पर सदन का ऑर्डर में होना महत्वपूर्णः हरिवंश
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
जेडीयू के दफ्तर में सीएम नीतीश से मिले गुप्तेश्वर पांडेय, 'सुशासन' की तारीफ की
 मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
मनमोहन सिंह की तरह गहराई वाले प्रधानमंत्री की कमी महसूस कर रहा है भारत: राहुल
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
झारखंडः सरना कोड की मांग पर गोलबंद होते आदिवासी संगठन, 15 अक्तूबर को राज्य व्यापी चक्का जाम करेंगे
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
पता नहीं, पीएम मोदी देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं, कृषि विधेयक सबसे बड़ा प्रहारः हेमंत सोरेन
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
गायक एस पी बालासुब्रमण्यम का निधन, मखमली आवाज से प्रशंसकों के दिलों पर दशकों तक राज किए
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे
बिहार विधानसभा चुनाव का बिगुल बजाः 28 अक्तूबर से तीन चरणों में मतदान, 10 नवंबर को नतीजे

Stay Connected

Facebook Google twitter